ShriMahaLakshmiRatnaKendra
Sale!

गणेश रुद्राक्ष असली नेपाली असली जैसे भगवान शिव ganesha rudraksha lab certified

Rs.701.00

गणेश रुद्राक्ष ऐसे साधक गणेश रुद्राक्ष धारण करते हैं जो भगवान शिव और श्री गणेश में श्रद्धा रखते हैं वह गणेश रुद्राक्ष धारण करते हैं रुद्राक्ष धारण करने का सबसे उत्तम महीना सावन होता है अन्यथा किसी भी शुक्ल पक्ष के सोमवार को धारण कर सकते हैं यह गणेश रुद्राक्ष लैब सर्टिफाइड होता है जो हमारे द्वारा पूजन संस्कार करके भेजा जाता है गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से केतु के अशुभ प्रभावों से भी मुक्‍ति मिलती है।इसे गणेश चतुर्थी के दिन धारण किया जाए तो यह और भी शुभ फलदायक होता है। गणेश रुद्राक्ष को सोमवार के दिन धारण करना चाहिए। रुद्राक्ष अलग-अलग प्रकार के होते हैं जिनमें सबसे उत्तम नेपाली रुद्राक्ष माना जाता है इसीलिए यह गणेश रुद्राक्ष नेपाली रुद्राक्ष उपलब्ध कराया जा रहा है नेपाली रुद्राक्ष मिलना इतना आसान नहीं होता नेपाली रुद्राक्ष प्राप्त करने के लिए कई दिनों तक इंतजार करना पड़ता है और बहुत से लोगों के बीच में रुद्राक्ष को पाने की प्रतिस्पर्धा चलती रहती है इसलिए रुद्राक्ष प्राप्त होते से ही साधक ले लेते हैं इसीलिए जो भी साधक इस रूद्राक्ष को प्राप्त करना चाहे उपलब्ध होने पर तुरंत ले ले क्योंकि भविष्य में उपलब्धता निश्चित नहीं होती है

6 in stock

Add to Wishlist
Add to Wishlist

Description

गणेश रुद्राक्ष ऐसे साधक गणेश रुद्राक्ष धारण करते हैं जो भगवान शिव और श्री गणेश में श्रद्धा रखते हैं वह गणेश रुद्राक्ष धारण करते हैं रुद्राक्ष धारण करने का सबसे उत्तम महीना सावन होता है अन्यथा किसी भी शुक्ल पक्ष के सोमवार को धारण कर सकते हैं यह गणेश रुद्राक्ष लैब सर्टिफाइड होता है जो हमारे द्वारा पूजन संस्कार करके भेजा जाता है गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से केतु के अशुभ प्रभावों से भी मुक्‍ति मिलती है।इसे गणेश चतुर्थी के दिन धारण किया जाए तो यह और भी शुभ फलदायक होता है। गणेश रुद्राक्ष को सोमवार के दिन धारण करना चाहिए। रुद्राक्ष अलग-अलग प्रकार के होते हैं जिनमें सबसे उत्तम नेपाली रुद्राक्ष माना जाता है इसीलिए यह गणेश रुद्राक्ष नेपाली रुद्राक्ष उपलब्ध कराया जा रहा है नेपाली रुद्राक्ष मिलना इतना आसान नहीं होता नेपाली रुद्राक्ष प्राप्त करने के लिए कई दिनों तक इंतजार करना पड़ता है और बहुत से लोगों के बीच में रुद्राक्ष को पाने की प्रतिस्पर्धा चलती रहती है इसलिए रुद्राक्ष प्राप्त होते से ही साधक ले लेते हैं इसीलिए जो भी साधक इस रूद्राक्ष को प्राप्त करना चाहे उपलब्ध होने पर तुरंत ले ले क्योंकि भविष्य में उपलब्धता निश्चित नहीं होती है

Additional information

Dimensions2 × 2 × 2 cm